loading...

रविवार, 17 फ़रवरी 2013

नर्सिग होम में ममता का सौदा!


पटना। मिलकियाना मोहल्ले के नि:संतान दंपती आरजू और फैयाज आलम बीते सोमवार को सोने की तैयारी कर रहे थे कि उन्हें घर के बाहर नवजात के रोने की आवाज सुनाई दी। दरवाजा खोला तो चौखट पर कपड़ों में लिपटा सुंदर लाल अपनी भूख शांत करने को बिलख रहा था। आरजू की ममता छलक पड़ी, बच्चे को गोद में ले चुप कराते हुए वह पति के साथ आसपास उसके मां-बाप की घंटों खोज करती रही, पर सफलता नहीं मिली। थक हार खुदा की नेमत मान दोनों घर लाकर उसकी परवरिश में जुट गए। लेकिन ये क्या रविवार को निजी अस्पताल की नर्स रिजवाना उनके घर आई और बच्चे के एवज में दस हजार रुपए देने या फिर बच्चा वापस करने का दबाव बनाने लगी। शोरगुल के बाद मामला थाने जा पहुंचा है। पुलिस ने सनहा दर्ज कर इसे बच्चे की अवैध खरीद-फरोख्त का मामला मान जांच शुरू कर दी है। प्रारंभिक तफ्तीश में पुलिस को पता चला है कि निजी अस्पताल में एक बिन ब्याही मां ने इस कर्ण को जन्म दिया है। लोकलाज के डर से वह उसे अस्पताल में ही छोड़ गई। नर्स रिजवाना आरजू और फैयाज आलम के दुख से परिचित थी, पैसे की लालच में रात दस बजे वह बच्चे को को उनके घर की चौखट पर रख गई। चार-पंाच दिन में दोनों को जब बच्चे केप्रति अथाह स्नेह होते देख लिया तो आज दस हजार रुपए वसूलने पहुंच गई। नहीं देने पर किसी अन्य को 50 हजार रुपए में बेचने की धमकी भी दी। उससे मिन्नतें व रोने से काम नहीं बना तो नि:संतान दम्पती मामले को आसपास के लोगों तक ले गए। लोगों ने इसकी लिखित जानकारी थाने को दिलवा दी। थानाध्यक्ष एनके रजक ने बताया कि यह बच्चा चोरी का रैकेट भी हो सकता है। पुलिस की टीम बन गई है। उन नर्सिग होम की जांच होगी जहां गर्भपात, पैसे लेकर बिन ब्याही मां का प्रसव कराने के बाद बच्चे को बेचने का धंधा होता है। इस मामले में उन्होंने आरजू को बिना अनुमति किसी को बच्चा न देने की हिदायत के साथ देखभाल करने की जिम्मेदारी सौंपी है। नर्स रिजवाना से पूछताछ की जाएगी। किसे बेचना है।

बिन ब्याही मां का गर्भपात कराने वाले नर्सिग होम के कर्मचारियों व नर्सो के पास यह जानकारी रहती है कि उनके इलाके में कौन नि:संतान है? उसे ऐसी संतानें देकर ऊंची कीमत वसूली जाती है।
पहले भी हुआ था खुलासा
चिकित्सक भी बिन ब्याही मां का प्रसव करा नवजात शिशु का सौदा करवाते हैं। यही नहीं गर्भपात और लिंग जांच के बाद ये धड़ल्ले से गर्भपात करा रहे हैं। कुछ महीने पूर्व भी इसका खुलासा हुआ था जब एक बिन ब्याही मां के गर्भपात के लिए चिकित्सक ने डेढ़ लाख रुपए ले लिए थे। एक अन्य मामले में 16 वर्षीय लड़की की गर्भपात के दौरान जान जाते बची थी।

loading...